ANCS Navel Pump Surgical Nabhi Solarplex

1308
Rs 200
ANCS Navel Pump Surgical  Nabhi Solarplex
ANCS Navel Pump Surgical Nabhi Solarplex

Description :

Navel Pump Surgical  Nabhi Solarplex The navel pump is used to surgically place the navel in the right place, it is to be used in the morning before meals (empty stomach). This pump-bowl is placed on the navel by placing a bowl over the navel and making a vacuum by the pump, the navel is done at the right place. A large number of disorders/diseases of the human body occur due to the imbalance of the navel (Dharana). For example, gas formation, nausea, stress, loss of appetite, not digesting food, pain in legs and calves and diarrhea are the main symptoms. So no treatment is effective. It is an effective and convenient tool used to fix the navel. Method: The patient has to use it by lying on a flat, flat surface on his back, the patient himself or any other person has to apply it above the navel. And by creating a vacuum with a pump, stretch the bowl. Create as much vacuum as you can tolerate. And keep the vacuum for 1 minute. If your navel is in the right place, then this bowl will not become a vacuum and the bowl will be removed automatically. And if the navel is not in its place, then the vacuum of the bowl will have to be removed by opening the black button on the pump. If the navel is not in the right place then do this process 4 to 5 times. And for 3 days it should be done in the morning on an empty stomach.

नाभि पंप सर्जिकल नाभी को सही स्थान पर करने के लिए प्रयोग में लिया जाता है इसका प्रयोग सुबह खाने से पहले (खाली पेट) करना होता है।  इस पंप-कटोरी को नाभि के उपर कटोरी लगाकर पंप द्धारा वैक्युम बनाकर नाभि को सही स्थान पर किया जाता है। नाभि (धरण) के असंतुलन के कारण मानव शरीर के बड़ी संख्या में विकार / रोग होते हैं। जैसे गैस बनाना, जी मचलना, तनाव रहना, भूख नहीं लगना, खाना नहीं पचना, पैरों और पिंडलियाँ  दर्द और दस्त लगना आदि प्रमुख लक्षण होते है।   तो कोई भी उपचार प्रभावी नहीं है। नाभि को ठीक करने के लिए उपयोग किया जाने वाला प्रभावी और सुविधाजनक उपकरण है। विधि : रोगी को अपनी पीठ के बल समतल, सतह पर लेटकर  इसका प्रयोग करना होता है  रोगी को स्वयं या किसी अन्य व्यक्ति द्धारा नाभि के ऊपर लगाना है ।  और पंप से वैक्युम बनाकर कटोरी में खिंचाव लाना है। अपनी सहन करने जितना वैक्युम बनाये। और 1 मिनट तक वैक्युम बनाये रखें। अगर आपकी नाभि सही स्थान पर है तो ये कटोरी से वैक्युम नहीं बनेगा और कटोरी स्वतः ही हट जाएगी। और अगर नाभि (धरण) अपने स्थान पर नहीं है तो कटोरी की वैक्युम को पंप पर लगे काले रंग के बटन को खोलकर निकालनी पड़ेगी। आगर नाभि सही स्थान पर नहीं है तो ये प्रक्रिया 4 से 5 बार करें। और 3 दिन तक सुबह खाली पेट ही करने चाहिए।  

1308_Navel_pump_2
1308_Navel Pump_1